प्रधानमंत्री आवास योजना को लेकर सरकार ने किया एक बड़ा बदलाव। PM Awas Yojana

प्रधानमंत्री आवास योजना बहुत ही लोकप्रिय योजना है इस योजना के तहत सरकार 2022 तक भारत में सभी बेघर लोगों को घर देने का फैसला किया है। इस योजना में EWS, SC, ST, OBC, और महिलाओं को घर देने का फैसला किया गया है।

योजना बहुत पहले आई थी मगर अभी हाल ही में सरकार ने इस योजना में एक बहुत बड़ा बदलाव किया है।

अगर आप प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थी हैं और आपको प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर मिला है तो आप जान ले कि इसमें 5 साल रहना अनिवार्य कर दिया गया है अन्यथा आप का आवंटन रद्द कर दिया जाएगा।

पहले पीएम आवास योजना के तहत आवास की रजिस्ट्री करवा कर दी जाती थी मगर अब रजिस्टर्ड एग्रीमेंट टू रिलीज करवा कर दिया जा रहा है। तो आप यह जान ले कि अगर आप पीएम आवास योजना का इस्तेमाल कर रहे हैं या भविष्य में पीएम आवास योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आप की रजिस्ट्री नहीं करवाई जाएगी अब लीज पर आवास मिलेगा।

पूरी जानकारी नीचे दी गई है।

पीएम आवास योजना क्या है।

पीएम आवास योजना या प्रधानमंत्री आवास योजना, देश के प्रधानमंत्री के द्वारा शुरू किया गया एक योजना है जिसके तहत 2022 तक देश के सभी बेघर लोगों को घर देने का फैसला किया गया है।

इस योजना के तहत पिछड़ी जाति के लोग और गरीब लोग सरकार के द्वारा बनाए हुए घर का इस्तेमाल कर सकते थे। मगर इस योजना में कुछ बदलाव किए गए हैं और उन बदलावों के तहत अब होम लोन लेने पर सरकार के द्वारा सब्सिडी भी मिलेगी।

पहले इस योजना का इस्तेमाल ज्यादातर गांव में होता था अब सरकार इसे शहर की ओर भी लेकर आ रही है जिसके तहत अगर आप की वार्षिक आय 3 से 6 लाख तक की है तो आप 12 से 18 लाख तक का होम लोन ले सकते हैं जिस पर आप को सरकार की तरफ से सब्सिडी मिलेगी।

पीएम आवास योजना का नया बदलाव।

13 अक्टूबर 2021 को सरकार ने अपने पीएम आवास योजना में एक बड़ा बदलाव किया है। इस बदलाव के तहत लोग पीएम आवास योजना मे मिलने वाले घर की धांधली नहीं कर पाएंगे।

पहले पीएम आवास योजना में जो आवास मिलता था वह रजिस्ट्री करवा कर मिलता था लेकिन अभी यह 5 साल की लीज पर मिलेगा।

दरअसल सरकार की यह देखना चाहती है कि आप उस घर का इस्तेमाल किस तरह से कर रहे हैं इसलिए अगर पीएम आवास योजना के तहत आपको आवाज दिया जा रहा है तो आपको उसमें 5 वर्ष रहना ही होगा। उसके बाद ही आपके एग्रीमेंट को लीज डीडी में तब्दील किया जाएगा अन्यथा विकास प्राधिकरण आपके साथ किए गए एग्रीमेंट को रद्द कर देगा।

अगर एक बार आपके साथ कोई एग्रीमेंट रद हो जाती है तो आपके जमा की गई राशि भी आपको वापस नहीं दी जाएगी।

जिनको आवास पहले मिल चुका है उनका क्या होगा।

जिनको पीएम आवास योजना के तहत आवास मिल चुका है उनका भी एग्रीमेंट रजिस्ट्री से लीज डीडी में तब्दील किया जाएगा।

कानपुर वो पहला शहर है जहां के विकास प्राधिकरण में रजिस्ट्री टू लीज एग्रीमेंट के तहत आवाज से देना शुरू कर दिया गया है।

फ्री होल्ड पर नहीं होगा फ्लैट।

पीएम आवास योजना के तहत जो प्लाट मिलता था अब वह फ्री होल्ड पर नहीं होगा। शहर में पीएम आवास योजना के तहत कुछ लोगों को फ्लाइट दिया जाता था और लोग उसे किराए पर चला देते थे।

धांधली को रोकने के लिए सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया है और फ्लॅट को फ्री होल्ड से हटा दिया है। मतलब जब लीज पर आवास मिलेगा तो आपको 5 साल बाद भी लीज पर ही रहना होगा।

सबसे पहले 5 साल की लीज का एग्रीमेंट होगा उसके बाद इस एग्रीमेंट को आगे और सालों के लिए बढ़ा दिया जाएगा।

अगर इन 5 सालों में आवास के मालिक या आवंटित की मौत हो जाती है तो केवल परिवार के लोग ही लीज को आगे बढ़ा सकते हैं। किसी और परिवार या रिश्तेदार के साथ लीज को आगे नहीं बढ़ाया जाएगा या किसी तरह का एग्रीमंट नहीं किया जाएगा।

निसकर्ष

अगर आप पीएम आवास योजना के लाभार्थी हैं तो आपको इतनी सी बात समझनी होगी कि अब सरकार घर की रजिस्ट्री करवा करके नहीं दे रही है वह लीज पर दे रही है।

पीएम आवास योजना के तहत मिले हुए आवास का इस्तेमाल कम से कम 5 वर्ष तक के लिए करना ही होगा इसके बाद प्लीज को आगे बहाल कर दिया जाएगा। अगर दुर्भाग्यवश आवंटी अपने एग्रीमेंट को आगे नहीं पढ़ा पाता है तो उसके परिवार के सदस्य को लीज आगे मिलेगी।

अगर आपको इस लेख में पीएम आवास योजना के तहत हुए सभी बदलावों के बारे में अच्छे से जानकारी मिल गई है तो इसे शेयर करें और कमेंट करके अपने विचार हमें जरूर बताएं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *